You are currently viewing GPS Kya Hai : GPS Kaise Kaam Karta Hai

GPS Kya Hai : GPS Kaise Kaam Karta Hai

GPS in Hindi | GPS Kya Hota Hai | What is GPS in Hindi | GPS Kaise Kaam Karta Hai | GPS Meaning in Hindi | Global Positioning System in Hindi | GPS Ka Matlab | GPS Ka Pura Naam | GPS Ka Pura Naam Kya Hai | GPS Full Name | GPS Ka Full Form Kya Hai |

GPS Kya Hai? जीपीएस एक वैश्विक नेविगेशन उपग्रह द्वारा चालित प्रणाली है | आज के क्रांतीकारी तकनीक युग में मनुष्य का जीवन कैसे सरल हो मनुष्य कैसे हर काम को आसान कर सके इसके लिए नए नए तकनीक आविष्कार किया जा राहा है |

आज के समय पर किसी आदमी ने अगर आपना जीपीएस on किया हैं तो उस आदमी को बहुत आसानी से ढूंडा जा सकता है | उस आदमी फिलहाल कौनसा जगह पर है जान सकते हैं | जीपीएस की मदद से बहुत आसानी से किसी भी आदमी का जो जीपीएस on किया है और उसके पास डिवाइस है तो यह आदमी को बहुत आसानी से ढूंडा जा सकता है |

कुछ दशक पहले किसी जगह,किसी आदमी,किसी ऑफिस का एड्रेस धुंडने में काफी मुश्कील हो जाता था | उस जगह अगर आप को जाना होता था तो किसी आदमी को उस address के बारे में पूछ ताज करना पड़ता था तब जाकर उसी जगह पर पहुँच पाते थे |

आज के क्रांतीकारी तकनीक युग में प्राय हर आदमी के पास इंटरनेट सहीत एक स्मार्ट फ़ोन रहता है | स्मार्ट फ़ोन पर जीपीएस features रहता उस features को enable कर के आप बहुत आसानी से किसी भी जगह को किसी आदमी को enquiry किये बिना पहुँच सकते हैं |

जीपीएस features क्या है? जीपीएस कैसे काम करता है,GPS Full Form क्या है,जीपीएस सिस्टम कैसे काम करता उन सभी के बारे में इस लेख में जानकारी दिया गेया है |

GPS Kya Hai?

GPS in Hindi – जीपीएस वैश्विक नेविगेशन उपग्रह प्रणाली है येह ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम से कलेक्ट कर के किसी भी स्थान,time,वेग निर्भूल हिसाब से बहुत आसानी से बता सकता है | आज के समय पर जीपीएस हर जगह महजुद है येह आप के स्मार्ट फ़ोन,car,घडी में जीपीएस सिस्टम पा सकते हैं | किसी एक जगह से दुसुरे जगह जाने के लिए आप जीपीएस सिस्टम का उपयोग कर के बहुत आसानी से पहुँच सकते हैं |

जीपीएस सिस्टम संयुक्त राज्य अमेरिका के defence department द्वारा तेयार किया गेया था | जीपीएस सिस्टम के सुरुवाती दौर में आम लोगों के लिए उपलध नहीं था यह केवल डिफेन्स personal सेना के काम के लिए उपयोग किया करते थे | कुछ सालों के बाद यह आम लोगों के लिए उपलध करवाया गेया था |

जीपीएस सिस्टम का सबसे बड़ी बात है यह जंगल हो या desert इलाका हो समुंदर हो या रेगिस्तान हो बहुत आराम से लोकेशन बता सकता है | जीपीएस सिस्टम दीन हो या फीर रात हो मौसम कैसा भी हो यह सफल्ता-पुर्बक सही जगह सही स्थान,सही वेग को बहुत आराम से बता सकता है |

GPS Full Form क्या है?GPS Ka Full Form

GPS Full Form – Global Positioning System होता है |

GPS Full Form in Hindi – हिंदी में जीपीएस का फुल फॉर्म ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम है।

GPS Kaise Kaam Karta Hai

GPS कैसे काम करता है?

जीपीएस एक navigation सिस्टम है GPS Kya Hai जो अंतरिक्ष में घूमता रहता है | मानव द्वारा प्रेरित उपग्रहों से रिसीवर और algorithms का उपयोग कर के स्थान,वेग,समुद्र और समय का डाटा प्रेरित करता रेहेता है |

जीपीएस सिस्टम एक कठीन सिस्टम है जो 24 उपग्रहों की मदद से स्थान,समुद्र,रेगिस्थान,समय और गाती का डाटा को पृथ्वी-केंद्रित कण्ट्रोल stations को डाटा भेजता रहता है |

जीपीएस सिस्टम 24 उपग्रहों का एक तारा मंडल होता है और प्रतेक में 4 उपग्रहों रहता है जो पृथ्वी से20,000 km ऊपर परिक्रमा करता रेहेता है | यह बहुत तेज से परिक्रमा करता रहता है हर उपग्रहों को एसी तरह से फैलाया जाता है जो पूरी तरह से पृथ्वी को कवर कर सके और हर समय किसी जगह,स्थान,समुद्र,वेग का डाटा निर्भूल हिसाब से डाटा भेज सके |

जीपीएस सिस्टम 3 सेगमेंट प्रणाली पर कार्य करता है,Space Segment,Control Segment और User Segment होता है | इन तीनो सेगमेंट प्रणाली को सैटेलाइट द्वारा जोड़ दिए जाते हैं जो हम को किसी भी स्थान,समुद्र,वेग और समय का डाटा उपलध कर सके

यह भी पढ़े =

जीपीएस सिस्टम 3 सेगमेंट क्या है?

GPS Kya Hai जीपीएस सिस्टम का मूल 3 सेगमेंट होता है |

  • Space सेगमेंट
  • Ground Control सेगमेंट
  • User Segment
  • Space सेगमेंट

space सेगमेंट में बहुत सारे satellites मीडियम earth ऑर्बिट पर धरती की चरों और घूमता रेहेता है |

  • Ground Control सेगमेंट

Ground Control सेगमेंट का बहुत बड़ा रोले रेहेता है यह monitoring,controlling और maintaining करना होता है | Ground Control रूम से ग्राउंड antennas द्वारा मॉनिटर किया जाता है | ग्राउंड कण्ट्रोल stations से अंतरिक्ष में उपग्रहों के ऊपर नजर रखना और उनका ठीक तरीके से संचालन करना होता है |

GPS Full Form

अंतरिक्ष में उपग्रहों के ऊपर नजर रखने के लिए अफ्रीका, यूरोप,उत्तर और दक्षिण अमेरिका,ऑस्ट्रेलिया और एशिया दुनिया के हर महाद्वीप ग्राउंड कण्ट्रोल stations है | ग्राउंड कण्ट्रोल stations से अंतरिक्ष में उपग्रहों के ऊपर नजर रखा जाता है |

  • User Segment

Satellites द्वारा भेजी गई signals को येह रिसीव करता है जीपीएस रिसीवर और ट्रांसमीटर जिसमे स्मार्ट फ़ोन,telematic devices और घड़ियां सामिल है यह आप को आपके queries के हिसाब से बता देता है |

यह भी पढ़े –

जीपीएस का उपयोग

जीपीएस के उपयोग आज के समय पर जीपीएस एक भरोसेमंद और सक्तिशाली उपकरण है | जीपीएस का उपयोग आज के समय पर बहुत सारे जगह में उपयोग किया जाता है | जीपीएस आज के समय पर surveyors,pilots,मीनिंग,एग्रीकल्चर नाव के captains लोगों के लिए एसे बहुत सारे जगह पर जीपीएस का उपयोग सफलतापूर्वक किया जाता है | एसे तो जीपीएस का उपयोग बहुत सारे जगह पर सफलतापूर्वक किया जाता है इसमें से कुछ important उपयोग जाहाँ किया जाता है निचे दिया गेया है |

  • Tracking – किसी भी वस्तु या फीर ब्यक्ति को आसानी से निगरानी किया जाता है |
  • Navigation एक स्तान से दुसुरे स्तान को जाने आने के लिए उपयोग किया जाता है |
  • Location – किसी भी स्तान को जाने आने के लिए जीपीएस का उपयोग सफलतापूर्वक किया जाता है |
  • Mapping – दुनिया भर के मैप तेयार करने के लिए जीपीएस का उपयोग किया जाता है |
  • Timing – जीपीएस का उपयोग कर के विश्व में किसी भी जगह का समय सठीकता measurements कर सकते हैं |
  • Emergency Response – किसी भी आपात स्थिति या प्राकृतिक आपदा के दौरान जीपीएस का उपयोग कर के लोगों को बहुत आसानी से बहुत कम समय में उद्धार कार्य किया जाता है |

जीपीएस को कैसे चलाए

GPS Kya Hai जीपीएस को चलाने के लिए सबसे पहले आप को आपनी मोबाइल फ़ोन के सेटिंग में जाना होगा,सेटिंग में आप को location का एक आप्शन दीखाई देगा उसे आप को on करना पडेगा |

जीपीएस से location कैसे सर्च करे

आज कल प्राय हर समार्ट फ़ोन पर पहले से ही Google Maps इंस्टाल हो कर आता है | आप उस map को खोलना होगा येहाँ पर आप को map दीखाई देगा और एक green कलर का dot दीखाई देगा यह green dot आप का लोकेशन को दर्शाता है | अगर आप को किसी जगह को सर्च करना है तो सर्च bar पर उस address को टाइप करके enter करना पडेगा |

इंटर करने से आप के द्वारा सर्च किये गये स्तान को map पर शो करेगा | अगर आप उस स्तान को जाना है तो आप को direction बटन पर क्लिक करना पडेगा और स्टार्ट बटन क्लिक करने से आप जैसे जैसे आगे चलते जायेंगे आप को जीपीएस निदेर्शीत करता रहेगा | जीपीएस द्वारा निर्देशीत मार्ग पर चलने से आप को आप की मंजील तक किसी को बिना पूछे आराम पहुँच सकते हैं |

जीपीएस का इतिहास

Global Positioning System (GPS) GPS Kya Hai, जिसका असली नाम Navstar GPS है । Navstar का फुल फॉर्म Navigation Satellite Timing And Ranging System है . GPS को U.S.A के द्वारा एक प्रोजेक्ट के रूप में शुरू किया गया था । इसका उदेश्य U.S military को दुशमनों के जहाज़ , वायुयानों और अन्य सैन्य उपकरणों की लोकेशन की सटीक जानकारी प्रदान करना था ।

GPS प्रोजेक्ट की शुरुआत U.S Department Of Defense द्वारा साल 1973 में किया गया था । इस प्रोग्राम के तहत पहला satellite साल 1978 में launch हुआ था । GPS को आम जनता के इस्तेमाल के लिए वर्ष 1983 में चालू कर दिया गया था । मगर उस समय इसमें बहुत तरह की पाबंदिया थी । मगर कुछ सालों बाद वर्ष 2000 में इसे पूरी तरह से आम जनता के लिए चालू दिया गया था ।

इस प्रोग्राम के तहत अमेरिका 1978 से लेकर अब तक 72 satellite launch कर चूंका है । जिसमे से 2 satellite की launching असफल रही । और इन 70 satellite में से 33 satellite ही पृथ्वी की सतह से लगभग 20,000 km ऊपर अपने orbit में मौजूद है । जिसमे से 31 satellite ही पूरी तरह से active है . मगर 20,000 km की उचाई से पृथ्वी को कवर करने के लिए केवल 24 satellite की ही ज़रुरत है । बाकि 7 satellite इन 24 satellite के अंतराल को कम करती है ।

जीपीएस का महत्व ?

GPS ने हमारे दैनिक जीवन में क्रांति ला दी है । इसने हमारे हर रोज़ के काम को सरल और सुविधाजनक बना दिया है । तो चलिए आइये जानते है GPS के फायदे और नुकसान :

जीपीएस के फायदे :

  • GPS से हम अपनी लोकेशन का पता कर सकते है ।
  • इसकी मदद से हम एक जगह से दूसरी जगह का रास्ता खोज सकते है ।
  • और इसकी मदद से हम अपनी लोकेशन को अपने परिवार या अपने दोस्त को किसी भी वक्त शेयर कर सकते है |
  • GPS की मदद से ही सारी कैब services और movers and packers काम करती है ।
  • GPS की मदद से हम पूरी दुनिया का map देख सकते है ।
  • GPS की मदद से हम गाड़ियों को track कर सकते है । जो की आपदा के समय काम आता है ।

जीपीएस के नुकसान

  • GPS से सबसे बड़ा नुकसान प्राइवेसी का होता है । क्यूंकि कोई भी आपकी location को ट्रैक कर सकता है ।
  • GPS का सटीक तरीके से इस्तेमाल करने के लिए हमे लगातार Internet से जुड़े रहना पड़ता है ।

Frequently Asked Question about GPS

GPS किसके द्वारा संचालित है?

GPS संयुक्त राज्य अमेरिका के स्वामित्व में USA की वायु सेना द्वारा संचालित है।

GPS Ka Full Form क्या होता है?

जीपीएस का फुल फॉर्म Global Positioning System होता है।

जीपीएस का आविष्कार कब हुआ?

जीपीएस प्रणाली का उपयोग सिर्फ अमेरिकी सेना करता था। जीपीएस प्रोजेक्ट को 1960 में यूएस डिपार्टमेंट ऑफ़ डिफेंस ने शुरू किया था । लेकिन सफलता 1973 में मिला था। शुरुआती दिनों में केवल 24 सैटेलाइट के मदद से इस सिस्टम को बनाया गया था।

जीपीएस का आविष्कार सर्वप्रथम विश्व के किस देश में एवं कब हुआ था?

जीपीएस का आविष्कार सर्वप्रथम विश्व के किस देश में एवं कब हुआ था? जीपीएस (GPS – ग्लोबल पोज़ीशनिंग सिस्टम), एक वैश्विक नौवहन उपग्रह प्रणाली है जिसका विकास संयुक्त राज्य अमेरिका के रक्षा विभाग ने किया है। पहले पहल उपग्रह नौवहन प्रणाली ट्रांजिट का प्रयोग अमेरिकी नौसेना ने 1960 में किया था।

GPS कैसे काम करता है?

gps kaise kaam karta hai जैसा कि हम ऊपर बता चुके हैं कि GPS एक receiver के साथ काम करता है। यह receiver दरअसल satellite से मिले डाटा की कैलकुलेशन करता है। इसमें पोजीशन कम से कम एक बार में तीन satellite की मदद से पता की जाती है। यह तीन satellite GPS रिसीवर की 2डी लोकेशन बताते हैं।

मोबाइल में जीपीएस क्या होता है?

जीपीएस एक अंतरिक्ष-आधारित उपग्रह नेविगेशन प्रणाली होता है जो की सभी मौसम की स्थिति में स्थान और समय की जानकारी प्रदान करता है. फिर चाहे वो धरती के किसी भी जगह में क्यूँ न स्तिथ हो. ये प्रणाली पुरे दुनिया भर के सैन्य, नागरिक और वाणिज्यिक उपयोगकर्ता को महत्वपूर्ण क्षमता प्रदान करता है.

GPS का फुल फॉर्म क्या होता है ?

GPS Full Form – Global Positioning System होता है |
GPS ka Full Form in Hindi – हिंदी में जीपीएस का फुल फॉर्म ग्लोबल पोजिशनिंग सि

This Post Has One Comment

Leave a Reply